Fat Meaning in Hindi

Fat Meaning in Hindi

Adjective

  • मोटा
  • मांसल शरीर वाला
  • बहुत भारी

Other Adjectives – fatter, fattest

Antonyms (विलोम शब्द) –

  • Thin – पतला

Pronunciation (उच्चारण) –

  • Fat – फैट

Fat Means in Hindi All Details –

Fat एक अंग्रेज़ी शब्द हैं जिसका हिंदी में मतलब ” मोटा ” होता हैं। किसी व्यक्ति को fat या मोटा कहना अच्छा नहीं समझा जाता इसके लिए plump, stout या overweight अधिक शिष्ट शब्द हैं।

वसा की विशेषता निम्नलिखित है :- यह जल में अघुलनशील होता है। यह इथर, बैंजीन एवं क्लोरोफार्म में घुलनशील होता है।

आहार से प्राप्त वसा के लगभग 96 प्रतिशत भाग का शरीर में वर्तमान कार्बोहाइड्रेट की उपस्थिति में अभिपाचन (Digestion) हो जाता है।

आहार से प्राप्त वसा के लगभग 96 प्रतिशत भाग का जिसका अभिपाचन शरीर में वर्तमान कार्बोहाइड्रेट की उपस्थित में अभिपाचन हो जाता है, का अभिशोषण (Absorption) भी शरीर में वर्तमान प्रोटीन की उपस्थिति में हो जाता है।

यह शरीर के वसा उत्तकों (Fatty Tissues) में लंबी अवधि तक संगृहीय रह सकने की क्षमता रखता है।

कार्य (Functions) : वसा द्वारा शरीर के लिए किये जाने वाले कार्यों में कुछ प्रमुख निम्नलिखित हैं –

1 . शरीर में त्वचा के नीचे अवस्थित वसा उत्तकों में लंबी अवधि तक संग्रहीत रहकर वसा शरीर को ताप एवं शक्ति देनेवाले सुरक्षित भंडार के रूप में कार्य करता है।

2 . वसा से शरीर को खनिज लवण की भी आपूर्ति होती है।

3 . वसा से वसा में घुलनशील विटामिनों की भी आपूर्ति शरीर को होती है।

4 . शरीर के सर्वाधिक कोमल अंगों जैसे- हृदय, गुर्दा, तंत्रिकायें आदि को वसीय आवरण उपलब्ध कराकर वसा उनकी सुरक्षा करता है।

5 . वसायुक्त आहार पचने में अधिक समय लेता है तथा यह संतुष्टि एवं स्वाद उपलब्ध कराता है।

6 . शरीर की त्वचा में आर्द्रता तथा चिकनापन बनाये रखने में वसा महत्वपूर्ण सहयोग देता है।

शरीर में वसा के अधिक होने से निम्नलिखित कष्ट हो सकते हैं –

1 . वसा का आधिक्य मोटापा (Obesity) को जन्म देता है।

2 . शरीर में वसा का आधिक्य होने से शरीर की सुडौलता नष्ट हो सकती है।

3 . अत्यधिक वसा मोटापा को जन्म देती है तथा मोटापा शरीर की क्रियाशीलता घटाती है।

कमी का प्रभाव –

मनुष्य के खान-पान में लंबी अवधि तक निरंतर गंभीर अभाव बने रहने से शरीर पर निम्नलिखित प्रभाव पड़ सकते हैं।

1 . शारीरिक दुर्बलता का शिकार होना पड़ सकता है।

2 . त्वचा एवं बालों की चमक नष्ट हो सकती है एवं वे रुखड़े हो सकते हैं।

3 . शरीर अत्यधिक दुबला-पतला हो सकता है तथा उसकी क्रियाशीलता, घट जा सकती है।

Also Read –

Leave a Comment

error: