Sandhi – संधि क्या हैं। संधि के भेद और उदाहरण की पूरी जानकारी हिंदी में

दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में Hindi Grammar का एक महत्वपूर्ण टॉपिक संधि (Sandhi) के बारे में बताया गया हैं। जिसमे आप संधि किसे कहते हैं, संधि की परिभाषा क्या होती है और संधि के कितने प्रकार के होते हैं आदि इन सभी चीजों के बारे में पढ़ सकते हैं।

 

संधि किसे कहते हैं और संधि के भेद | Sandhi in Hindi Grammar

Sandhi Kya Hai

 

संधि (Sandhi) – दो वर्णों के मेल से पैदा होने वाले विकार को संधि कहा जाता हैं।

 

अथवा,

 

दो शब्द जब आस-पास होते हैं, तो उच्चारण की सुविधा के लिए पहले शब्द का अंतिम और दूसरे शब्द का पहला वर्ण आपस में मिल जाते है। इस मिलन से विकार पैदा होता हैं। इसी विकार को संधि कहा जाता हैं।

 

जैसे –

 

शिव + आलय = शिवालय।

गिरि + ईश = गिरीश।

 

संधि के भेद या प्रकार – Sandhi Ke Bhed | Types of Sandhi

 

हिंदी व्याकरण में संधि के तीन भेद होते है जो की निम्नलिखित हैं –

 

1 . स्वर संधि (Swar Sandhi)

2 . व्यंजन संधि (Vyanjan Sandhi)

3 . विसर्ग संधि (Visarg Sandhi)

 

Final Thoughts – 

 

आप यह भी हिंदी व्याकरण के चैप्टर को भी पढ़े –

2 thoughts on “Sandhi – संधि क्या हैं। संधि के भेद और उदाहरण की पूरी जानकारी हिंदी में”

Leave a Comment

error: