Malnutrition Meaning in Hindi

Malnutrition Meaning in Hindi

Noun

  • कुपोषण
  • पर्याप्त भोजन या सही प्रकार के पर्याप्त भोजन के अभाव से उत्पन्न अस्वस्थता

Pronunciation (उच्चारण)

  • Malnutrition – मॉनुट्रिशन

Adjective

  • Malnourished – कुपोषित

Malnutrition Meaning and Definition in Hindi

कुपोषण उत्तम पोषण की विपरीत दशा है? उत्तम पोषण के अंतर्गत भोजन के संबंधित सभी पौष्टिक तत्त्व शरीर की आवश्यकतानुसार पर्याप्त मात्रा में रहता है।

कुपोषण वह स्थिति है जिसमें भोज्य पदार्थ के गुण और परिणम में अपर्याप्ता होती है। कभी-कभी आवश्यकता से अधिक पोषक तत्त्व की पूर्ति भी कुपोषण का कारण बन जाती है।

डी०एफ० टर्नर ने “पोषण का अर्थ इस रूप में दिया है पोषण उन प्रक्रियाओं का संयोजन है जिनके द्वारा जीवित प्राणी अपनी क्रियाशीलता को बनाए रखने के लिए अपने अंगों की वृद्धि एवं पुनः निर्माण के लिए आवश्यक पदार्थ को प्राप्त करता है और उनका उचित उपयोग करता हैं।”

Malnutrition Definition in Hindi

कुपोषण के कारण – भारत की अधिकांश जनता अनपढ़ होने के कारण भोजन में उपस्थित पोषक तत्वों के महत्व को नहीं समझ पाती है।

फलस्वरूप कुपोषण का शिकार हो जाती है। कुपोषण का कारण केवल दोषपूर्ण भोजन नहीं होता, बल्कि कुछ अन्य कारण भी हैं जो निम्न हैं –

अत्यधिक कार्य : जब व्यक्ति को उसके कार्य अनुरूप भोज्य पदार्थ एवं पोषक तत्त्व नहीं मिल पाता है, तो वह कुपोषण का शिकार हो जाता है। इससे उसकी कार्य-क्षमता गिरती है, कमजोरी बढ़ती है।

नींद की कमी : प्रायः अस्वस्थ वातावरण, सोने का उचित प्रबंध न होना, खुली हवा की कमी या अधिक कार्यभार, चिन्ता, परेशानी से पूर्णरूप से नींद नहीं आ जाती है और व्यक्ति कुपोषण से ग्रसित हो जाता है।

अस्वस्थ वातावरण : अस्वस्थ वातावरण बीमारी का प्रमुख कारण होता है जहाँ हवा एवं सूर्य प्रकाश की कमी एवं आस-पास के वातावरण की सफाई की कमी रहती है। ऐसी जगह रहनेवाले लोग कुपोषण के शिकार हो जाते हैं।

निर्धनता : भारत में अधिकांश कुपोषण की शिकायत निर्धन लोगों के बीच देखी आवास नहीं। यहाँ कभी सुखाड़ है तो कभी बाढ़। भारतीय परिवारों की सामाजिक एवं आर्थिक अवस्था भी इसका मुख्य कारण है।

अपर्याप्त भोजन : निर्धन देशों में उचित भोज्य पदार्थों की कमी रहती है या भोजन पदार्थों की कीमत अधिक रहती है जिसे गरीब जनता खरीद नहीं पाती है, फलस्वरूप उनका शारीरिक एवं मानसिक विकास में बाधा होती है तथा वे कुपोषण से ग्रसित हो जाते हैं।

पोषण संबंधी अज्ञानता : भोजन संबंधी आवश्यकता एवं उनकी पूर्ति के साधन संबंधी अज्ञानता के कारण भी कुछ लोग कुपोषण के शिकार हो जाते हैं।

भोज्य पदार्थों में मिलावट : भोज्य पदार्थों में अपमिश्रण के कारण भी कुपोषण होता है।

Also Read –

Leave a Comment

error: