जय प्रकाश नारायण की जीवनी – Jayprakash Narayan Biography in Hindi

जय प्रकाश नारायण 

 

जय प्रकाश नारायण जी का जीवन परिचय :- श्री जयप्रकाश नारायण भारत के स्वाधीनता संग्राम के प्रमुख स्तंभ थे। उनका जन्म बिहार के सिताब दियारा नामक स्थान पर 11 अक्टूबर, 1902 को हुआ था।

 

वह विद्यार्थी जीवन से ही राष्ट्रीय आंदोलन से जुड़े हुए थे। पटना में कॉलेज की शिक्षा अधूरी छोड़कर वे अमेरिका चले गए थे और वहाँ पर वे मार्क्सवादी विचारधारा से अत्यधिक प्रभावित हुये।

 

jay prakash narayan ki jivani

 

1929 ईस्वी में भारत लौटे और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सदस्य बने। 1932 ईस्वी में नागरिक अवज्ञा आंदोलन के दौरान श्री नारायण को 1 वर्ष का कारावास हुआ और गिरफ्तार करके उनको नासिक जेल में भेज दिया गया।

 

जेल से लौटने के बाद उन्होंने कांग्रेस सोशलिस्ट पार्टी की स्थापना का दृढ़ निश्चय किया और अपनी जैसी विचारधारा के लोगों को लेकर 1933 में उन्होंने कांग्रेस सोशलिस्ट पार्टी की स्थापना की और स्वयं उसके महासचिव बने।

 

1939 में उन्हें पुनः गिरफ्तार किया गया और बड़े नाटकीय ढंग से अपने साथियों सहित हजारीबाग जेल से फरार हो गए। इसके परिणामस्वरूप उन्हें भूमिगत आंदोलन के हीरो समझे जाने लगा।

 

1948 में अनेक समाजवादी विचारधारा के कांग्रेसियों ने कांग्रेस छोड़ दी और 1952 में प्रजा सोशलिस्ट पार्टी की स्थापना की। 1954 में राजनीतिक मतभेदों के कारण उन्होंने पार्टी छोड़ कर अपना जीवन विनोबा भावे के भूदान आंदोलन की ओर लगाया।

 

श्री नारायण ने सत्ता की राजनीति से संयास ले लिया और 1974 में छात्रों के आंदोलन को उनके आग्रह पर अपने हाथ में ले लिया। इस आंदोलन के साथ ही श्री जयप्रकाश नारायण लोकनायक कहे जाने लगे।

 

25 जून, 1975 को देश में आपातकालीन घोषणा के बाद श्री जयप्रकाश नारायण को नजरबंद कर लिया गया। बाद में बीमारी के कारण उन्हें रिहा कर दिया गया।

 

1977 के आम चुनाव में इंदिरा गांधी की बुरी तरह पराजय हुई और श्री मोरारजी देसाई भारत के प्रधानमंत्री बने। 8 अक्टूबर, 1979 को उनका पटना में निधन हो गया।

 

श्री जयप्रकाश नारायण भारतीय राजनीति में समाजवादी विचारधारा के प्रमुख राजनीतिक रहे। उन्हें लोग जे पी के नाम से पुकारते थे। भूदान आंदोलन में भी उनका सक्रिय योगदान रहा। वह मृदुभाषी और ईमानदार राजनीतिज्ञ के रूप में सदैव जाने जाते रहेंगे।

 

Final Thoughts – 

 

यह भी जरूर पढ़े –

Leave a Comment

error: